नजर सामे ज मे विखराय जाता जोइ लीधा Gujarati Gazal By Naresh K. Dodia

नजर सामे ज मे विखराय जाता जोइ लीधा Gujarati Gazal By Naresh K. Dodia

नजर सामे ज मे विखराय जाता जोइ लीधा Gujarati Gazal By Naresh K. Dodia नजर सामे ज मे विखराय जाता जोइ लीधा घडीमा मानवी पलटाय जाता जोइ ल...
Read More
बदलती तो नथी ए हाथनी रेखा Gujarati Muktak By Naresh K. Dodia

बदलती तो नथी ए हाथनी रेखा Gujarati Muktak By Naresh K. Dodia

बदलती तो नथी ए हाथनी रेखा Gujarati Muktak By Naresh K. Dodia बदलती तो नथी ए हाथनी रेखा छतां ए तो गझलकारो बनी बेठा फूकी लीधी कलम,एन...
Read More
चंद दाने डाल के इक पंक्षी को अपना बनाया जाता है  Hindi Gazal By Naresh K. Dodia

चंद दाने डाल के इक पंक्षी को अपना बनाया जाता है Hindi Gazal By Naresh K. Dodia

चंद दाने डाल के इक पंक्षी को अपना बनाया जाता है  Hindi Gazal By Naresh K. Dodia चंद दाने डाल के इक पंक्षी को अपना बनाया जाता है बाद ...
Read More
जात मारी रोज हुं छेतरतो हतो Gujarati Muktak By Naresh K. Dodia

जात मारी रोज हुं छेतरतो हतो Gujarati Muktak By Naresh K. Dodia

जात मारी रोज हुं छेतरतो हतो Gujarati Muktak By Naresh K. Dodia जात मारी रोज हुं छेतरतो हतो एटले तो आयनाथी डरतो हतो जात एनी साव भोळ...
Read More
अर्थ शब्दोना मने ज्यां समजाय छे Gujarati Gazal By Naresh K. Dodia

अर्थ शब्दोना मने ज्यां समजाय छे Gujarati Gazal By Naresh K. Dodia

अर्थ शब्दोना मने ज्यां समजाय छे Gujarati Gazal By Naresh K. Dodia अर्थ शब्दोना मने ज्यां समजाय छे एक मतलब ज्यां तु ने हुं ए थाय छे ...
Read More
तुम्हारा रुंत्बा कुछ भी नही दुनिया मे आज   Hindi Muktak By Naresh K. Dodia

तुम्हारा रुंत्बा कुछ भी नही दुनिया मे आज Hindi Muktak By Naresh K. Dodia

तुम्हारा रुंत्बा कुछ भी नही दुनिया मे आज   Hindi Muktak By Naresh K. Dodia जरा सी बात पे तुम इतनां क्युं इतराते हो      तुम्हारी एब ...
Read More
तोहमत इतनी पुरानी है की तूम को चाहता था Hindi Muktak By Naresh K. Dodia

तोहमत इतनी पुरानी है की तूम को चाहता था Hindi Muktak By Naresh K. Dodia

तोहमत इतनी पुरानी है की तूम को चाहता था Hindi Muktak By Naresh K. Dodia तोहमत इतनी पुरानी है की तूम को चाहता था आज भी लगता है की उस ...
Read More
उस पार कर दो या मुझे इस पार कर दी जिए Hindi Gazal By Naresh K. Dodia

उस पार कर दो या मुझे इस पार कर दी जिए Hindi Gazal By Naresh K. Dodia

उस पार कर दो या मुझे इस पार कर दी जिए Hindi Gazal By Naresh K. Dodia उस पार कर दो या मुझे इस पार कर दी जिए वो मुझ को ही देखे उसे ऐसी...
Read More