पण हुं आवुं मानतो नथी Gujarati Quote By Naresh K. Dodia

पण हुं आवुं मानतो नथी Gujarati Quote By Naresh K. Dodia

पण हुं आवुं मानतो नथी Gujarati Quote By Naresh K. Dodia कहे छे के एक तरफी प्रेम हमेशां एक शायरने ज्न्म आपे छे..पण हुं आवुं मानतो नथी.....
Read More
जे स्त्री मित्रतानी सरहद टपवा नथी मांगती एनी सामे इश्कनां झंडा ना फरकावो..Gujarati Article By Naresh K. Dodia

जे स्त्री मित्रतानी सरहद टपवा नथी मांगती एनी सामे इश्कनां झंडा ना फरकावो..Gujarati Article By Naresh K. Dodia

जे स्त्री मित्रतानी सरहद टपवा नथी मांगती एनी सामे इश्कनां झंडा ना फरकावो..Gujarati Article By Naresh K. Dodia जे स्त्री मित्रतानी सरहद...
Read More
प्रेममां थती कल्पनाओ अदभूत होय छे Gujarati Quote By Naresh K. Dodia

प्रेममां थती कल्पनाओ अदभूत होय छे Gujarati Quote By Naresh K. Dodia

प्रेममां थती कल्पनाओ अदभूत होय छे Gujarati Quote By Naresh K. Dodia प्रेममां थती कल्पनाओ अदभूत होय छे,ए कल्पनाओनुं परिमाण विशाळ होय छे...
Read More
वार्ता - जल्दीथी आपणे उपर फरी मळीशुं Gujarati Stroy By Naresh K. Dodia

वार्ता - जल्दीथी आपणे उपर फरी मळीशुं Gujarati Stroy By Naresh K. Dodia

वार्ता - जल्दीथी आपणे उपर फरी मळीशुं Gujarati Stroy By Naresh K. Dodia वार्ता - जल्दीथी आपणे उपर फरी मळीशुं ------------------------...
Read More
एक माणसने चाहवामा शायरी काफी नथी Gujarati Muktak By Naresh K. Dodia

एक माणसने चाहवामा शायरी काफी नथी Gujarati Muktak By Naresh K. Dodia

एक माणसने चाहवामा शायरी काफी नथी Gujarati Muktak By Naresh K. Dodia एक माणसने चाहवामा शायरी काफी नथी शब्दथी आगळ जो वधो तो जिंदगी काफ...
Read More
मेरे सिने में छूप के रोने की आदत हो गइ है  Hindi Muktak By Naresh K. Dodia

मेरे सिने में छूप के रोने की आदत हो गइ है Hindi Muktak By Naresh K. Dodia

मेरे सिने में छूप के रोने की आदत हो गइ है  Hindi Muktak By Naresh K. Dodia मेरे सिने में छूप के रोने की आदत हो गइ है   जैसे कभी मुझ ...
Read More
एक सांधेने तुटे छे तेर त्यारे शुं करीए? Gujarati Gazal By Naresh K. Dodia

एक सांधेने तुटे छे तेर त्यारे शुं करीए? Gujarati Gazal By Naresh K. Dodia

एक सांधेने तुटे छे तेर त्यारे शुं करीए? Gujarati Gazal By Naresh K. Dodia एक सांधेने तुटे छे तेर त्यारे शुं करीए? होय इश्वरना धरे ज्...
Read More
एहसास तुम को है मगर उतना नहीं Hindi Muktak By Naresh K. Dodia

एहसास तुम को है मगर उतना नहीं Hindi Muktak By Naresh K. Dodia

एहसास तुम को है मगर उतना नहीं Hindi Muktak By Naresh K. Dodia एहसास तुम को है मगर उतना नहीं  दरिया हूं मैं फिर भी तुम्हे डूबना नहीं ...
Read More