फिसल जाता नहीं हुं महोतरमां Sher By Naresh K. Dodia

फिसल जाता नहीं हुं महोतरमां   Sher By Naresh K. Dodia
फिसल जाता नहीं हुं महोतरमां   Sher By Naresh K. Dodia
फिसल जाता नहीं हुं महोतरमां     
जनाना की यहा तादाद भारी है 
- नरेश के. डॉडीया 
Advertisement