शामकी तनहाइ मे तुं कयुं नही है Hindi sher Naresh K. Dodia

शामकी तनहाइ मे तुं कयुं नही है Hindi sher Naresh K. Dodia
शामकी तनहाइ मे तुं कयुं नही है Hindi sher Naresh K. Dodia
शामकी तनहाइ मे तुं कयुं नही है
इश्क का अंजांम दुनिया मे यही है
- नरेश के. डॉडीया 

Advertisement