बहाने और भी है मुझ को मशहुर होने के लिए Hindi Sher By Naresh K. Dodia

बहाने और भी है मुझ को मशहुर होने के लिए Hindi Sher By Naresh K. Dodia
बहाने और भी है मुझ को मशहुर होने के लिए Hindi Sher By Naresh K. Dodia
बहाने और भी है मुझ को मशहुर होने के लिए
मुझे इक पल दे,तेरी आंख कां नुर होने के लिेए
- नरेश के.डॉडीया
Advertisement