तुम्हारे पास एक बरबाद करने के लिए दिल है Hindi Muktak By Naresh K. Dodia

तुम्हारे पास एक बरबाद करने के लिए दिल है Hindi Muktak By Naresh K. Dodia
तुम्हारे पास एक बरबाद करने के लिए दिल है Hindi Muktak By Naresh K. Dodia
तुम्हारे पास एक बरबाद करने के लिए दिल है
उपर से तेरे गालो पे वो कातिलाना एक तिल है              
तुम्हारे पास अनपढ दिल है व्हां कैसे जगह मिलती?            
मुझे मालूम नही इस के लिए क्यां हम भी काबिल हैं?        
- नरेश के.डॉडीया
Advertisement